Recent Posts

Archive

Tags

No tags yet.

क्या एलिमेंटल नॉलेज के बिना स्वयं को जानना संभव नहीं है?क्या प्रत्येक डोमिनेटेड एलिमेंट के इष्ट औ


क्या हैं एलिमेंटल नॉलेज?-

27 FACTS;-

1-हमारे तीन शरीर है...स्थूल, सूक्ष्म, कारण।अपने एलिमेंट को जानना

अथार्त अपने स्थूल शरीर, अपने कॉन्शसनेस को जानना।इसके बाद

अपने एलिमेंट के आराध्य को जानना अथार्त अपने सबकॉन्शियस को, अपनी आत्मा को जानना।इसके बाद अपने आराध्य के आराध्य को जाननाअथार्त परमात्मा को जानना ,

सुपरकॉन्शियस को जानना।उदाहरण के लिए यदि आप वाटर एलिमेंट है ;तो सबसे पहले ध्यान में आपको फीलिंग/अनुभूतियां होंगी क्योकि यह आपका एलिमेंट है।

2-इसके बाद वाटर एलिमेंट का आराध्य है ; फायर एलिमेंट।तो आपको दृश्य आने लगेंगे।फायर एलिमेंट का आराध्य है...एयर एलिमेंट।तो ध्यान में,सबसे अंत मेंआपको साउंड आने

लगेगा।अर्थात आप अपने सुपरकॉन्शियस, परमात्मा से जुड़ जाएंगे।तो सबसे पहले स्वयं को

जाने। फिर अपनी आत्मा को जाने! और इसके बाद परमात्मा को जाने।यदि आप फायर एलिमेंट है;तो पहले ध्यान में दृश्य आएंगे।फायर एलिमेंट का आराध्य है...एयर एलिमेंट।तो आपको साउंड सुनाई पड़ेंगे।एयर एलिमेंट का आराध्य है वाटर एलिमेंट! तो अंत में आपको अनुभूतियां होंगी।

3-इसी प्रकार यदि आप एयर एलिमेंट है तो ध्यान में सबसे पहले साउंड

आएगा।क्योकि यह आपका एलिमेंट है।इसके बाद एयर एलिमेंट का आराध्य है...वाटर एलिमेंट ; तो आपको अनुभूतियां होंगी।और वाटर एलिमेंट का आराध्य है....फायर एलिमेंट।तो अंत में आपको दृश्य आने शुरु होंगे।दृश्य, साउंड और फिलिंग्स...ध्यान में यह तीनों चलते

रहते हैं।परंतु आपका फोकस एक चीज में नहीं होता है।तो पहले आप अपने एलिमेंट का काम करें ; फिर अपने एलिमेंट के आराध्य का।इसके बाद आराध्य के आराध्य का।इस प्रकार

से हमें अपने तीनों एलिमेंट के 33% पूर्ण करने है।तब एक परसेंट में वह सातवां एलिमेंट आता है;जिसकी कोई व्याख्या नहीं की जा सकती।

4-हमारी फिजिकल बॉडी ही सिनेमा हॉल की स्क्रीन है।चाहे कितने करोड़ों की पिक्चर

हो;लेकिन उसका डिस्प्ले सफेद स्क्रीन में ही होता है।इस प्रकार सफेद स्क्रीन है हमारी कॉन्शसनेस और हमारी फिजिकल/ स्थूल बॉडी..।डिस्प्ले होने वाली फिल्म है हमारी सबकॉन्शसनेस,सूक्ष्म शरीर/ सटल बॉडीऔर फिल्म का डायरेक्टर है..सुपरकॉन्शसनेस ,

कारण शरीर।जब तक हमारी कॉन्शसनेस स्टेट सही/फिट नहीं है।तब तकसबकॉन्शसनेस सफेद स्क्रीन पर डिस्प्ले नहीं हो सकती।और सुपरकॉन्शसनेस तो ब