Recent Posts

Archive

Tags

No tags yet.

क्या है नवग्रहों और नक्षत्रों से संबंधित वृक्ष और जड़े धारण करने की सम्पूर्ण विधि?


नवग्रहों के वृक्ष और जड़े धारण करने की सम्पूर्ण विधि...

02 POINTS;-

1-प्राचीन काल से नवग्रह की अनुकूलता के लिये रत्न पहनने का प्रचलन रहा है।सम्पन्न लोग महंगे से महंगे रत्न धारण करलेते है। लेकिन इन रत्नों का संबंध ग्रह के शुभाशुभ प्रभावको बढ़ाने के कारण इनकी माँग और भी ज्यादा बढ़ गई है। हमारे ऋषि मुनियों ने प्राचीन काल से ही ग्रह राशियों के आधिकारिक वृक्ष उनके गुण देखकर निर्धारित किये थे।प्रारम्भ में सभी लोगों को महंगे रत्न उपलब्ध नहीं होते थे। तब वे पेड़ की जड़ धारण करते थे।रत्नों की तरह ही पेड़ की जड़ भी पूर्ण लाभ देती है।

2-ज्योतिष विज्ञान में महंगे रत्नों, उपरत्नों के विकल्प के रूप में पेड़-पौधों की जड़ें पहनी जाती हैं। इससे बुरे ग्रहों का प्रभाव नष्ट होता है और संबंधित ग्रह

अनुकूल होता है।वृक्ष की जड़ पहनने के लिए सर्वप्रथम आपको अपने जन्मनाम की राशि का पता होना चाहिए। और अपनीराशि के स्वामी ग्रह का भी ज्