Recent Posts

Archive

Tags

No tags yet.

31 विज़्डम कोट्स/WISDOM QUOTES (BY SADGURU)


1-योग कोई शांत करने वाली औषधि नहीं है, बल्कि स्फूर्ति भर देने वाली शक्ति है। 2-जब हम मौजूदा वस्तुस्थिति के आधार पर भविष्यवाणी करते हैं, तो हम परिस्थितियों को रूपांतरित करने की इंसानी क्षमता को पूरी तरह अनदेखा कर देते हैं। 3-अगर आपका हर काम उसके लिए है, जिसकी आप परवाह करते हैं, जिसकी आपको फिक्र है, तब आपको चाहे कुछ मिले या न मिले, आपका जीवन सुंदर बना रहता है। 4-आप जो हैं, उसे आपने खुद ही बनाया है। जब आप ये समझ जाते हैं, तो कम से कम खुद को अपनी पसंद के अनुसार बनाएं। 5-प्रेम कोई सुविधा का साधन नहीं है। प्रेम खुद को मिटाने की प्रक्रिया है। आपका इतिहास जानवरों का है। आपका भविष्य दिव्यता का है। फिलहाल, आप एक पेंडुलम की तरह इन दोनों के बीच झूल रहे हैं। 6-अगर आप भरपूर ध्यान दें, तो अस्तित्व में हर चीज अद्भुत है, हर चीज दिव्यता का द्वार है। 7-कोई भी इंसान, चाहे वो जो भी कर रहा हो, बिना कृपा के सफल नहीं हो सकता। 8-जीवन को गहराई में अनुभव करना ही एकमात्र पवित्र कार्य है। आधा अधूरा जीवन जीना एकमात्र पाप है। 9-मन समझ पैदा करने के लिए होता है, बकवास पैदा करने के लिए नहीं। इसे शीशे की तरह होना चाहिए, जो हर चीज को वैसी ही दिखाए, जैसी वो है। 10-जन्म और मृत्यु बस गलियारे हैं, जीवन के नहीं, बल्कि समय के। अध्यात्म-मार्ग पर होने का मतलब है कि आप यह समझते हैं कि आपकी परेशानी का स्रोत और आपकी खुशहाली का स्रोत - दोनों आपके भीतर ही हैं। 11-अगर आपको दुनिया की परवाह है, तो पहली चीज जो आपको करने की जरूरत है, वो है खुद को एक आनंदमय प्राणी बनाना। 12-अगर आप एक जबर्दस्त जीवन जीना चाहते हैं, तो आपको पांच तत्वों के साथ हरदम संपर्क बनाए रखना होगा। 13-इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि जीवन में आप क़िस तरह के हालात से गुजरते हैं, आप उससे क्या गढ़ते हैं ये आपके ऊपर है। 14-कोई परिस्थिति तनावपूर्ण सिर्फ तभी बनती है, जब आप उस पर बाध्य होकर प्रतिक्रिया करते हैं। 15-अगर आप एक जबर्दस्त जीवन जीना चाहते हैं, तो आपको पांच तत्वों के साथ हरदम संपर्क बनाए रखना होगा। 16-आपके शरीर की हर कोशिका आपकी खुशहाली के लिए काम कर रही है। अगर आप अपने सिस्टम के साथ तालमेल में हैं, तो आप स्वाभाविक रूप से स्वस्थ रहेंगे। 17-It doesn’t take any great intellect or qualifications to create something wonderful, just absolute devotion towards what you wish to do. 18-ध्यानलिंग पूजा करने के लिए नहीं है, यह अनुभव करने के लिए है। यह लिंग अस्तित्व की असीम प्रकृति तक पहुंचने का एक द्वार है। 19-अगर आप अतीत के अनुभवों को अपने भविष्य पर हावी होने देते हैं, तो आप यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि आपके जीवन का कोई भविष्य नहीं होगा, आप बस अतीत में ही घुमते रहेंगे। 20-पूरे अस्तित्व में एकात्मकता है और सभी प्राणी अपने आप में अनूठे हैं। इसे पहचानना और इसका आनंद लेना ही अध्यात्म का सार है। 21-आप प्रेम में ऊंचे नहीं उठ सकते, आप प्रेम में उड़ नहीं सकते, आप प्रेम में खड़े नहीं हो सकते – आपको लव (प्रेम) में फॉल करना (गिरना) होगा। अगर आप भावनाओं के जादू को जानना चाहते हैं, तो आपके कुछ अंश को फॉल करना (गिरना) होगा। 22-इंसानी रिश्तों से कुछ पाने की आपकी जो जरूरत है, अगर आप उसे खत्म कर देते हैं, अगर आप खुद-ब-खुद आनंद से भर जाते हैं, तो आप हर तरह के लोगों के साथ शानदार रिश्ते रख सकते हैं। 23-बहुत सारे इंसान डर से या अपराधबोध से अपंग हो गए हैं। मानवता की इस अपंगता को धर्म का जामा पहनाया गया है। 24-आप किसी चीज के बारे में जितना ज़्यादा जानते हैं, आप उसे उतना ही बेहतर संभाल सकते हैं। आप खुद को जितना ज़्यादा जानते हैं, आप खुद को उतना ही बेहतर संभाल सकते हैं। इसी को आत्म-ज्ञान कहते हैं। 25-भक्ति सबसे ऊंचे दर्जे की बुद्धि है। जब आपमें भक्ति की मिठास की बाढ़ आती है, तब आपके अन्दर जो भी उत्तम है, उस ढंग से काम करते हैं। 26-आपके विचार और भावनाएं एक ड्रामा हैं, जो आप अपने मन में पैदा करते हैं। आप इस ड्रामा का निर्देशन वैसे करने के काबिल बनें, जैसे आप चाहते हैं। 27-प्रेम करने की, दूसरों तक पहुँचने और जीवन को अनुभव करने की आपकी क्षमता की कोई सीमा नहीं है। सीमाएं सिर्फ शरीर और मन के काम करने की होती हैं। 28-जीवन आपके भीतर से घटित होता है। अगर आपके जीवन में जीवन का स्रोत ही सबसे ऊँची सत्ता है, तो सराहना या उपहास भरी राय का कोई महत्व नहीं होगा। 29-अपने जीवन जीने के तरीकों को बस दोहराते मत रहिए। आप हर दिन जो छोटी-छोटी चीजें करते हैं, आपके सोचने, महसूस करने, समझने, और काम करने के तरीके - आज आप उन्हें थोड़े अलग ढंग से कीजिए… 30-आपका जीवन अपने आप में कोई अलग अस्तित्व नहीं है। जो सांस आप छोड़ते हैं, उसे पेड़ अपने अन्दर लेते हैं; जो पेड़ बाहर छोड़ते हैं, उसे आप अन्दर लेते हैं। अगर यह सभी के अनुभव में होता, तो क्या हमें आपको पेड़ लगाने और उनकी सुरक्षा करने के लिए कहना पड़ता? 31-पेड़ लगाना प्यार की एक बहुत बड़ी अभिव्यक्ति है। आप नहीं जानते कि आप इसकी छाँव या फलों का आनंद ले पाएंगे या नहीं, लेकिन आपको पता है कि कोई-न-कोई इसका आनंद लेगा।

....SHIVOHAM....