Recent Posts

Archive

Tags

No tags yet.

भोजन के एल्कलाइन होने का अर्थ और फायदे


शरीर का प्राकृतिक स्वाभाव एल्कलाइन है, हमने अपनी लाइफ स्टाइल से इसके स्वाभाव को बदल दिया जिस कारण से हमारे शरीर के सभी अंग हमारी त्वचा सहित शरीर का हर हिस्सा समय से पहले ही ख़त्म हो रहा है. जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण आज छोटी छोटी आयु में हार्ट अटैक, ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, अत्यधिक वजन, किडनी फेलियर, स्ट्रोक, कैंसर इत्यादि भयंकर रोग से ग्रसित हमारे युवा और 40 वर्ष की आयु के अधेड़ जो कभी 60 साल से पहले अपने को बूढा महसूस नहीं करते थे वो आज 60 साल से पहले ही वो दुनिया को अलविदा कह कर चले जाते हैं.। इसका मूल कारण ही अगर हम सही कर दें तो हम सहज ही कई बिमारियों से बच कर एक स्वस्थ जीवन व्यतीत कर सकते हैं. । तो आइये आज आपको बताते हैं एल्कलाइन डाइट चार्ट क्या है और क्या है इसके फायदे.। .

शरीर के लिए लाभदायक और हानिकारक खाद्यपदार्थो के मध्य विभाजन रेखा बनाने के लिए उनका क्षारीय (एल्कलाइन) अथवा अम्लीय (एसिडिक) होना आधार बन सकता है.। मानव रक्त थोडा क्षारीय (एल्कलाइन) होने के कारण स्वास्थ्य के लिए क्षारीय (एल्कलाइन) वातावरण अधिक उपयुक्त माना जाता है.। What Is PH level पीएच लेवल क्या है ? -------------------------- शरीर में क्षारीय और अम्लीय तत्वों की केमिस्ट्री का संतुलन बनाये रखने के लिए PH की महत्वपूर्ण भूमिका होती है.। 7 से कम PH अम्लीय और 7 से ज्यादा PH क्षारीय कहलाता है.। सामान्यत: मानव रक्त की PH 7.35 से 7.45 के बीच में होती है.।असामान्य PH शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता पर बुरा प्रभाव डालती है.जो कई रोगों को जन्म देती है ।.ऐसी अवधारणा है की क्षारीय भोजन रक्त के PH को प्रभावित कर कैंसर सहित तमाम रोगों से बचाव एव इलाज में सहायक होते है ।

आखिर क्या है एल्कलाइन डाइट -------------------------------------------

1931 में नोबेल प्राइज विजेता "" डॉ ओट्टो वार्बर्ग "" ने बताया था की कोई भी बीमारी यहा तक की कैंसर भी एल्कलाइन वातावरण में जीवित नही रह सकता है । इस प्रकार एल्कलाइन डाइट से कई बीमारियों यह तक की कैंसर से भी बचा जा सकता है.। क्षारीय भोजन;- ** हरी पत्तेदार सब्जिया – पालक, अजवायन, कैल, सलाद पता ,जड़ वाली साग-भाजी जैसे गाजर,